सोशल मीडिया पर निबंध (Essay on Social Media In Hindi)

सोशल मीडिया पर निबंध (Essay on Social Media In Hindi)

नमस्ते दोस्तों आज हम आज हम सोशल मीडिया पर निबंध (Essay on Social Media In Hindi) लिखेंगे। सोशल मीडिया पर निबंध का उपयोग बच्चो (kids) और class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए लिखा गया है।


सोशल मीडिया पर निबंध


प्रस्तवना


वर्तमान में सोशल मीडिया का मानव की जिंदगी में बहुत महत्व है। आज मनुष्य भले ही किसी जरूरी काम को करना भूल जाए लेकिन वह सोशल मीडिया पर अपनी लाइफ अपडेट करना नहीं भूलता है

आप बस यू समझ लीजिये कि आज की दुनिया इंटरनेट और सोशल मीडिया पर ही बस रही है इसीलिए आज हम सोशल मीडिया पर निबंध के माध्यम से सोशल मीडिया की भूमिका, सोशल मीडिया का युवा पर प्रभाव, सोशल मीडिया का महत्व आदि संबंधित मुद्दों पर चर्चा करेंगे। ‌


सोशल मीडिया की भूमिका


सोशल मीडिया एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां पर पूरी दुनिया में से प्रत्येक वर्ग के लोग एक दूसरे को इंटरनेट के माध्यम से संपर्क करते है।‌ पहले के जमाने में लोग कंप्यूटर पर Email के जरिए इंटरनेट का इस्तेमाल करके दुनियाभर में सूचनाओं का आदान-प्रदान करते थे।

लेकिन आज मनुष्य की ज्यादातर आबादी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम और ट्विटर जैसे प्लेटफार्म का इस्तेमाल अपने दोस्तों रिश्तेदारों एवं किसी दूसरे शहर या देश में रह रहे जानकार से बातचीत करने के लिए प्रयोग में करते हैं। ‌

वर्तमान समय में सोशल मीडिया सूचनाओं के आदान-प्रदान का एक बहुत बड़ा प्लेटफॉर्म बन चुका है। ‌मनुष्य अपने व्यक्तिगत जीवन की हर छोटी-बड़ी सूचना को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से अन्य यूजर्स के साथ शेयर करता है। ‌

यह एकल व्यक्ति, संस्था, समूह और समाज के एक बड़े वर्ग के लिए सूचनाओं के आदान-प्रदान तथा सूचनाओं के द्वारा समाज में सकारात्मक बदलाव स्थापित करने के माध्यम से एक अहम हिस्सा है।

सोशल मीडिया आज समाज में चल रही किसी भी कुरीति एवं आपत्तिजनक घटना को जड़ से खत्म करने की ताकत रखता हैं। दरअसल ज्यादातर समूह अपने किसी भी सही बात को समाज के मध्य लाने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हैं।

क्योंकि सोशल मीडिया पर किसी भी सूचना एवं घटना की वीडियो एवं टेक्स्ट फोटो के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुँचाया जाता हैं ताकि उस घटना पर एक बड़े वर्ग का पक्ष स्थापित हो सके। ‌

किसी भी प्रकार के अत्याचार एवं आपत्तिजनक सूचनाओं के विरोध के लिए भी सोशल मीडिया का उपयोग सकारात्मक बदलाव के लिए किया जाता है ताकि समाज में भाईचारा एवं एकता स्थापित हो सके। ‌


सोशल मीडिया का महत्व


सोशल मीडिया का मनुष्य के जीवन में काफी महत्व है। यह सामाजिक, सांस्कृतिक, आर्थिक एवं राजनीतिक आदि चार मुख्य रूपों के माध्यम से परिवर्तन स्थापित करती है।

किसी भी धर्म, जाति, रीति रिवाज एवं विचारधाराओं के सकारात्मक पहलुओं एवं ज्ञान को स्थापित करने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का सहारा लेना एक अच्छी पहल मानी जा सकती है। ‌

व्यक्ति समूह एवं महिलाओं के सुरक्षा के लिए आवाज उठाना एवं मनुष्य के हितों की रक्षा करना तथा मनुष्य को उनके हितों के प्रति जागरूक करना सोशल मीडिया का ही काम है। ‌

आज मानव एवं समाज कल्याण संस्थाएं संसार में जागरूकता फैलाने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का ही सहारा लेती है क्योंकि सोशल मीडिया पर दुनिया का आधा हिस्सा मौजूद है और इससे किसी भी सकारात्मक विचार को पनपने में मदद मिलती है।

सोशल मीडिया के माध्यम से लोग दुनिया भर हो रही घटनाओं का भी पता लगा सकते हैं क्योंकि ज्यादातर आधिकारिक न्यूज चैनल भी इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करता हैं जिसके माध्यम से जनता के बीच समय-समय पर सूचनाओं को संचारित करती रहती है।

सोशल मीडिया के जरिये व्यक्ति अपने प्रति हो रहे अत्याचार को यूजर्स के साथ शेयर कर सकता है और जैसे-जैसे व्यक्ति द्वारा शेयर की गई फोटो एवं वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होती है वैसे-वैसे उस व्यक्ति को तेजी से सहायता एवं समाधान की प्राप्ति होती है कई बार तो यहाँ सूचना सरकार तक पहुँच जाती हैं।

सोशल मीडिया पर वैश्विक सूचना एवं जानकारी तेजी से वायरल होती है इसीलिए ज्यादातर घटनाओं की जानकारी आधिकारिक संस्थाओं एवं विभाग इसी प्लेटफार्म का इस्तेमाल करता हैं।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे फेसबुक और इंस्टाग्राम अब कमाई का एक जरिया बन चुका है क्योंकि यहां पर यूजर्स जिन्हें सोशल मीडिया इनफ्लुएंसर भी कहा जाता है, वह अपना पेज बनाकर लोगों तक शिक्षा, स्वास्थ्य,योग, फिटनेस, बिजनेस, फाइनेंस, समाचार, टेक्नोलॉजी, खेल, ब्यूटी एवं फैशन आदि संबंधित क्षेत्र में अपने अनुभव को साझा करते हैं।

वे लोगों की मदद कर उन्हें अपने अव्वल क्षेत्र में ज्ञान संबंधित बातें शेयर करते हैं जिससे इसी प्लेटफार्म पर एक सोशल मीडिया इनफ्लुएंसर और कंपनी एक दूसरे के साथ Paid Partnership के तौर पर काम करना शुरू कर देती है,जिससे कंपनी एवं सोशल मीडिया इनफ्लुएंसर दोनों का ही लाभ होता है।


सोशल मीडिया का युवा पर प्रभाव


सोशल मीडिया का युवा पर सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ा है क्योंकि सोशल मीडिया का युवा पर प्रभाव को हम दो रूपों जैसे सकारात्मक एवं नकारात्मक रूप में देख सकते हैं। ‌

यदि सोशल मीडिया पर युवा के प्रभाव का सकारात्मक पहलू देखा जाए तो यहां पर कई युवा ऐसे हैं जो मानव एवं समाज कल्याण के माध्यम मानव के हितो की रक्षा, महिलाओं की सुरक्षा, देश को डिजिटल बनाने तथा समाज में एकता एवं भाईचारा स्थापित करने हेतु काम करते हैं।

एक बड़ा युवा वर्ग सोशल मीडिया का इस्तेमाल समाज कल्याण के लिए करता है तो वहीं दूसरी तरफ अगर हम सोशल मीडिया पर युवा के प्रभाव का नकारात्मक पहलू देखें तो यहां पर कुछ युवा समूह ऐसे भी है जो सोशल मीडिया का इस्तेमाल धोखाधड़ी, ब्लैकमेलिंग एवं जालसाजी के लिए करते हैं।‌

कई लोग गलत आइडेंटिटी बनाकर लोगों से सूचनाओं वसूल कर लेते हैं। ‌सोशल मीडिया पर युवा का एक ऐसा समूह भी है जो सिर्फ इसी पर अपना वक्त बीतता है एवं वह सामाजिक तौर पर सक्रीय नहीं रहता है, जिससे उसके कैरियर एवं व्यक्तिगत रूप प्रभावित होता है।


निष्कर्ष


सोशल मीडिया का सही उपयोग मानव एवं समाज कल्याण के लिए हितकारी साबित हो सकता है लेकिन सोशल मीडिया के गलत प्रयोग से समाज एक ऐसे अंधकार की ओर जा सकता है जिससे आने वाली पीढ़ी धर्म, जाति, रीति रिवाज, विचारधाराओं के सकारात्मक पहलुओं से वंचित रह सकती है।

ये भी पढ़ें